ad

ad

ad

FPO Registration कैसे करे, दस्तावेज, एफपीओ का मतलब 2022 में

ad

2

ad

FPO Registration :-  एफपीओ के रजिस्ट्रेशन से पहले ये जाने ले कि एफपीओ का क्या है. FPO एक किसान उत्पादक संगठन (farmer producer organisation) है जिसकी शुरुवात भारत सरकार द्वारा किसानो की आय को बढ़ाने के लिए की गयी है. यह केंद्र सरकार और राज्य सरकार की सम्मिलित योजना है. इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा वर्ष 2023 -24  तक 10000 FPO खोले जाने है. FPO Registration से जुडी पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े.

ये भी पढ़े:- FPO :- एफपीओ क्या है ? यहाँ से जानें किसान कैसे ले 2022 में इसका फ़ायदा

FPO Registration कैसे करे (एफपीओ पंजीकरण)

एफपीओ पंजीकरण (FPO Registration) के लिए आप निम्न में से कोई एक तरीका अपना सकते है. जो कि इस प्रकार है :-

  1. आवेदक FPO/ FPC e-NAM Portal की वेबसाइट पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकता है. e-NAM Portal की ऑफिसियल वेबसाइट www.enam.gov.in है.
  2. e-NAM मोबाइल ऐप के द्वारा भी आवेदक अपना एफपीओ पंजीयन (FPO Registration) कर सकते है.
  3. किसान नजदीकी e-NAM मंडी में जाकर अपना विवरण देकर भी एफपीओ पंजीयन (FPO Registration) करा सकते है.

ये भी पढ़े:- जाने Maruti Suzuki WagonR के mileage, Price, features, variants, attractive color और बहुत कुछ 2022 में

एफपीओ पंजीयन में आवश्यक दस्तावेज (FPO Registration documents)

आवेदक को एफपीओ पंजीयन (FPO Registration) में निम्न आवश्यक दस्तावेजो को पंजीयन के समय प्रस्तुत करना होता है:-

  • FPO का नाम
  • आवेदक का नाम और जन्म तिथि
  • आवेदक का पता
  • फोटो आई डी (आधार कार्ड/ पेन कार्ड/ राशन कार्ड/ ड्राइविंग लाइसेंस/ वोटर आई डी / पासपोर्ट )
  • मोबाइल नंबर, कंपनी नाम, लाइसेंस नंबर, कंपनी रजिस्ट्रेशन
  • बैंक डिटेल और पासबुक

ये भी पढ़े:- Business loan tips:- व्यापार के विस्तार के लिए MSME दे रहा है, 7 करोड़ तक का लोन जानें क्या होगी पात्रता

ad

एफपीओ का मतलब क्या है (what is FPOs)

एफपीओ (FPO) एक किसान उत्पादक संगठन है जिसका निर्माण किसानो द्वारा समूह बनाकर किया जाता है जिसे किसानो का समूहीकरण कहा जाता है. किसान जो कि कृषि उत्पादों के उत्पादक है वह इसमें सम्मिलित होकर एक साथ एक समूह के रूप में काम करते है. किसानो के इस कार्य को आसान बनाने के लिए कृषि और सहकारिता विभाग, कृषि मंत्रालय द्वारा लघु कृषक कृषि व्यवसाय संघ (एसएफएसी )  को आवश्यक किया गया था. जो कि राज्य सरकारों को एफपीओ (FPO) के गठन में सहयोग प्रदान करती है.

ये भी पढ़े:- Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana :- आवेदन, पंजीयन, आवश्यक दस्तावेज और Profit आदि की basic जानकारी 2022 में

फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी के फायदे (benefits of FPO)

किसानो के लिए फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी के फायदे को निम्न तरीके से समझा जा सकता है:-

  • एफपीओ (FPO) समूह के सभी सदस्यों के लिए या किसानो के लिए एक एग्रीगेटर के रूप में काम कर सकते है और जरूरत होने पर ई-ट्रेडिंग के द्वारा एक/ कई लॉट के माध्यम से वेच सकते है.
  • किया गया भुगतान सीधा एफपीओ के बैंक खाते में किया जाता है. जिसे एफपीओ द्वारा आपने सदस्यों में वितरित किया जाता है.
  • केंद्रीय बजट 2017-18 में फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी के परिसर में संग्रह /छटाई /ग्रेडिंग /पैकेजिंग आदि की सुविधा को स्थापित करने का प्रावधान किया है.
  • फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी  में वस्तु के आगमन , गुणवत्ता और कीमत आदि के बारे में डैशबोर्ड को व्यक्तिगत रूप से उपलब्ध कराया जाता है जो कि इन सभी के बास्तविक समय के अनुसार जानकारी प्रदान करता है.

ये भी पढ़े:- Natural Farming Panjiyan :- जल्द करे पंजीयन, पाए लाभ सरकार के इस कार्यक्रम का 2022 में

farmer producer organisation से जुडी कुछ खास बाते

  • कुल पंजीकृत farmer producer organisation (FPO) की संख्या वर्तमान में 700 से अधिक है. जो अभी e-nam के प्लेटफ़ॉर्म में रखा गया है.
  • farmer producer organisation का पंजीयन e-nam के पोर्टल पर जाकर कर सकते है.

NOTE:- आवेदक एफपीओ पंजीयन (FPO Registration) के लिए दी गई समस्त जानकारी को  e-nam की ऑफिसियल वेबसाइट में जाकर सावधानी के साथ समझ कर ही रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन करे.

ये भी पढ़े:- प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से कैसे ले 10,000 तक का लोन

ad

ad

You might also like

ad

startup के लिये युवाओं को बिना ब्याज के 10 लाख तक का लोन beauty tips :- सर्दी में ऐसे रखे अपनी त्वचा का ख्याल ये फलों को खाने से जोड़ों में जमा Uric acid जल्दी हो जाता है खत्म दुनिया के लगभग 84 देशों के WhatsApp यूजर्स के मोबाईल नंबर हुए लीक MPPSC 2018 के Interview में पूछे गये महतपूर्ण प्रश्न