ad

ad

ad

CM Ladli Behna Yojana MP: उमंग सिंघार की आशंका लाड़ली बहना योजना के लिए सरकार के पास पैसे नहीं

ad

0

ad

CM Ladli Behna Yojana MP: मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के ठीक पहले शुरू की गई लाड़ली बहना योजना को लेकर एक बार फिर बहस छिड़ी हुई है। लाड़ली बहना योजना को लेकर एक बार फिर नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार की आशंका ने जाहिर की है उन्होंने सरकार के पास योजना के लिए पैसे नहीं की बात कही है। इसके अलावा उन्होंने कहा है कि आने वाले महीने में योजना के बंद होने की भी आशंका जताई है।

CM Ladli Behna Yojana MP के लिए सरकार के पास पैसे नहीं- उमंग सिंघार

कॉंग्रेस नेता उमंग सिंघार ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म X (पहले का नाम ट्विटर) पर ट्वीट कर कहा कि लाड़ली बहना योजना के बंद कर देने का अंदेशा सही निकाल रहा है सरकार के लिए योजना में पैसे देने का संकट सामने खड़ा है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से याद करते हुए आगे लिखा कि मामा जी कहा है। बहनों के लिए कुछ तो करिए!’

प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद जनवरी की 8वीं किस्त के लिए 1,596 करोड़ रुपए का इंतजाम बड़ी मुश्किल से हो पाया है, 10 जनवरी को तो लाड़ली बहनों (CM Ladli Behna Yojana MP) के खाते में 1250 रुपए की राशि जैसे तैसे आ जाएगी लेकिन, फरवरी की किस्त को लेकर विभाग बेहद परेशान और असमंजस में है। महिला एवं बाल विकास विभाग ने वित्त विभाग से फरवरी की किस्त जारी करने के लिए बजट मांगा है। जबकि, वित्त विभाग ने 38 से अधिक योजनाओं में बिना अनुमति वित्तीय आहरण पर पहले ही रोक लगा दी गई है।

ad

शिवराज ने उमंग सिंघार की आशंका का दिया जवाब

वहीं नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार की आशंका के विपरीत पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने को लाड़ली बहनों को बेफिक्र रहने के लिए कहा है। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफार्म X (पहले का नाम ट्विटर) वीडियो जारी कर कहा कि ‘मुझे खुशी है कि 10 तारीख को फिर से लाड़ली बहनों के खाते में पैसा आ रहा है। मैं लाड़ली बहनों को लखपति बहना बनाने के लिए मुख्यमंत्री मोहन यादव और सरकार के साथ मिलकर निरन्तर काम करूंगा। ‘

लाड़ली बहनों को लेकर मुख्यमंत्री मोहन यादव ने पहले ही कर चुके स्पष्ट

बता दे कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने पहले से ही स्पष्ट कर चुके हैं कि शिवराज सरकार की पहले सभी की योजना निरंतर चलती रहेगी। उन्होंने लाड़ली बहना योजना के संबंध में भी स्पष्ट कर चुके के ही योजना निरंतर यथावत चलते रहेगी। वही सूत्रों के मुताबिक सरकार के पास योजना के निरंतर यथावत चलाने के लिए पैसे नहीं है लेकिन 2024 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सरकार योजना को चुनाव तक जारी रख सकती है।

ये भी पढ़ें :- Mp weather Today : मध्यप्रदेश के इन जिलों में फिर बारिश की संभावना, पश्चिमी विक्षोभ द्रोणिका रूप से सक्रिय

ad

ad

You might also like

ad

startup के लिये युवाओं को बिना ब्याज के 10 लाख तक का लोन beauty tips :- सर्दी में ऐसे रखे अपनी त्वचा का ख्याल ये फलों को खाने से जोड़ों में जमा Uric acid जल्दी हो जाता है खत्म दुनिया के लगभग 84 देशों के WhatsApp यूजर्स के मोबाईल नंबर हुए लीक MPPSC 2018 के Interview में पूछे गये महतपूर्ण प्रश्न